हरियाणा : गेस्ट अध्यापकों पर लाठी चार्ज

Posted on Updated on

पूंजीवाद के बर्बरता की और बढ़ते कदम

पहले हीरो होंडा और अब सरकारी स्कूलों में कार्यरत गेस्ट टीचरों पर पुलसिया कहर कुछ और नहीं पूंजीवाद के गहराते संकट का ही प्रतीक है | लगता है की पूंजीवाद सभी लोकतांत्रिक मर्यादायों को ताक में रखकर शांतमयी ढंग से आन्दोलन चलाने वाले लोगो पर कहर बन कर टूट पड़ने को आमदा है | गाँधी के इस देश में अगर अमन से आन्दोलन करने वाले लोगों पर पुलिस इस प्रकार डंडे बरसाती है तो फिल्मों से चर्चित हुई उस गांधीगिरी का क्या होगा जिसमे मुन्ना भाई दुश्मन को या सरकार को प्यार और फूल भेज कर जीतता है |हीरो होंडा के मुलाजिमों का आन्दोलन लंबे समय से जारी था परन्तु सरकार ने इस और कोई तवजो नहीं दी और हालात पुलिस के लिए भी तनाव पूर्ण हो गये | वैसे भी पुलिस पब्लिक की नहीं अमीर और प्रभावशाली लोगो की बांदी बनने के कारण जनुभारों पर इतनी व्यथित होती है कि इस प्रकार की स्थिति को निपटने में उसकी भूमिका बर्बरतापूर्ण ही होती है |

पिछली शताब्दी के नब्बे के दशक से शुरू हुई उदारतावादी नीतियों ने दावे तो बहुत किए थे और अब भी संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन में लालू जैसे नेता गुरदास गुप्त पर चुटकी इस प्रकार लेते हैं कि जैसे उसने कई दिनों से रोटी न खाई हो | और उन्हें पूंजीवादी अर्थशास्त्र का ककहरा भी समझाते हुए कहते हैं कि रोटी तो तब मिलेगी जब इन्फ्रा स्ट्रक्चर का विस्तार होगा और गुरदास गुप्त पिछले साठ सालों में जनसँख्या वृदि और उत्पादन वृदि के भारी अंतर की व्याख्या करने की बजाए चुपी साधे मंद मंद मुस्कराते रहते हैं | सर पर लाल कलगी लगाकर संसद की दहलीज पर बांग देने वाले इन बात बहादुरों की व्यक्तिगत जिन्दगी इतनी आराम परस्त हो गई है कि अपनी मार्क्सवादी समझ का प्रयोग इन्हे नागवार लगता है |संक्षिप्त में कहें तो पिछले अठारह सालों की उदारतावादी नीतियों जिसमे रोजगार बढोतरी के बड़े बड़े दावे किए गये थे की पोल खुल गई है और सरकार पूंजीपतियों की तिजोरियों को भरने के लिए अवाम पर हर प्रकार का कहर बरपाने के लिए आमदा है |

Advertisements

One thought on “हरियाणा : गेस्ट अध्यापकों पर लाठी चार्ज

    super computer centre said:
    September 19, 2008 at 9:34 PM

    गेस्ट अध्यापकों पर लाठी चार्ज NOT GOOD HAPPENED

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s