विषय सूची – 2009

इन्सान का नसीबा’ और ‘ पहला अध्यापक’

सपार्टकस हिन्दी नाटिका यूटयूब पर
कार्ल मार्क्स की पूंजी (प्रथम खंड) का ऑडियो (इंग्लिश)
तनख्वाह का सच
शोलोखोव के नावल ‘धीरे बहे दोन रे’ पर आधारित बनी महाकाव्यात्मक रुसी फ़िल्म के डाउनलोड लिंक्स
भारतीय टेलिविज़न के इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा शाहकार ‘तमस’ अब ऑनलाइन
डेविड हार्वी के साथ कार्ल मार्क्स की पूंजी का पठन-वीडियो डाउनलोड करें
उजाले के दरीचे-’विहान’ संगीत मण्डली के गीत
इस साईट और इससे सम्बंधित साइटों पर उपलब्ध ऑडियो प्रोग्रामों को सुनने के तरीके
सपार्टकस हिंदी नाटक के संवाद [ऑडियो]
अंतरजाल पर प्रथम बार नई समाजवादी क्रान्ति का उद्घोषक ‘बिगुल’ फरवरी २००९ का ऑडियो एडिशन

मार्क्स–एंगेल्स द्वारा लिखित कम्युनिस्ट पार्टी का घोषणापत्र

मज़दूर अख़बार – किस मज़दूर के लिए?

नेपाली क्रान्ति : नये दौर की समस्याएँ और चुनौतियाँ, सम्भावनाएँ और दिशाएँ–आलोक रंजन

नताशा- एक महिला बोल्शेविक संगठनकर्ता एक संक्षिप्त जीवनी

सही विचार आखिर कहाँ से आते हैं?

‘बिगुल’ लक्ष्य और स्वरूप पर बहस

भारतीय लोकतंत्र की पंचवर्षीय महानौटंकी का मंच सज रहा है!

लाभकारी मूल्य..लागत मूल्य : एक बहस

मज़दूर साथियो! असली और नकली कम्युनिज्म में फ़र्क करना सीखो!

नए इंकलाब की मशाल जलाओ ! क्रांतिकारी लोक स्वराज्य का परचम ऊँचा उठाओ !!

भारत के कम्युनिस्ट आन्दोलन में संशोधनवाद

नक्सलबाड़ी और उत्तरवर्ती चार दशक-1

नक्सलबाड़ी और उत्तरवर्ती चार दशक-2

नक्सलबाड़ी और उत्तरवर्ती चार दशक-3

नक्सलबाड़ी और उत्तरवर्ती चार दशक-4

फैज़’ की गज़लों की गायिका इकबाल बानो के निधन पर

दर्शन के प्रश्नों पर

दर्शन के प्रश्नों पर-2

प्रेम, परम्परा और विद्रोह

पाँच क्रान्तिकारी जनसंगठनों का साझा चुनावी भण्डाफोड़ अभियान

कार्ल मार्क्‍स के जन्मदिन (5 मई) के अवसर पर

बोलते आँकड़े चीखती सच्चाइयाँ

मई दिवस-एक कविता

मई दिवस का इतिहास

मई दिवस का इतिहास-2

नई समाजवादी क्रान्ति का उद्घोषक ‘बिगुल’ के मई-2009 अंक की विषय – सामग्रीकला-साहित्य-संस्कृति की वैचारिकी पत्रिका – सृजन परिप्रेक्ष्य अब ऑनलाइन हुई.

स्वतंत्रता सेनानी और गदर पार्टी के आखिरी चिराग बाबा भगत सिंह बिलगा के निधन पर

मार्क्सवादी पारिभाषिक शब्दावली – कुछ विरासत से और कुछ …

नए सांस्कृतिक कार्यभारों की ज़मीन— महत्तव्पूर्ण सामजिक-आर्थिक सरंचनागत परिवर्तनों और विश्व-ऐतिहासिक विपर्यय का यह दौर

कला-साहित्य-संस्कृति के मोर्चे पर विचारधारात्मक संघर्ष
वामपन्थी” कलावाद-रूपवाद और मध्यवर्गीय लम्पटता का विरोध करो!

सांस्कृतिक मोर्चे पर व्यक्तिवाद, अराजकतावाद, उदारतावाद का विरोध करो!

कला-साहित्य के क्षेत्र में सामाजिक जनवादी प्रवृत्तियों का विरोध करो!

दलित-प्रश्न और स्त्री-प्रश्न पर सही रुख अपनाओ!

कला-साहित्य-संस्कृति में “लोकवाद” और “स्वदेशीवाद” का विरोध करो!

धार्मिक कट्टरपन्थ फ़ासीवाद के विरुद्ध सांस्कृतिक मोर्चे पर सही क्रान्तिकारी रणनीति अपनाओ!

हम अब भी लालगढ़ में हैं – चत्रधर महतो

“Labour Laws and New Forms of Working Class Resistance in the Era of Globalisation”

प्रथम अरविन्द स्मृति संगोष्ठी कार्यक्रम

सभ्याचार दी भिन्नता अते विकास दा द्वंदात्मक भौतिकवादी नज़रीया (पंजाबी ऑडियो)

First Arvind Memorial Seminar

आजाद हिन्‍दुस्‍तान के बारे में कुछ कवियों-शायरों की नज़्मों-कविताओं के अंश

भोजन दी खोज द्वारा सभ्यता दे निर्माण (दूसरी प्रकृति दे निर्माण ) दा द्वंदात्मक भौतिकवादी इतिहास

चुनाव और संसदीय व्यवस्था पर विशेष :

रियाज़ानोव की व्याख्या

त्मक टिप्पणियों की विषय सूची

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s